Saturday, November 25, 2017

संविधान निर्माता को साक्षी मानकर बंध गए विवाह के अटूट बंधन में

जांजगीर-चांपा। जिला मुख्यालय जांजगीर में आज 23 नवंबर को हुई अनूठी शादी लोगों के बीच चर्चा का विषय रही। यहां पुराना न्यायालय के सामने अंबेडकर प्रतिमा के समक्ष सरखों की एक युवती और भांठापारा जांजगीर के युवक ने संविधान निर्माता की प्रतिमा को साक्षी मानकर ब्याह रचा ली।
गुरुवार 23 नवंबर को भाठापारा जांजगीर निवासी रवि सिंह रत्नाकर पिता पुनऊराम सूर्यवंशी उम्र 22 वर्ष  और सरखों की किरण सूर्यवंशी पिता दिलीप सूर्यवंशी उम्र 18 वर्ष अपनी परिजन के साथ पुराना जिला न्यायालय के सामने स्थित अंबेडकर प्रतिमा के पास पहंुचे। यहां उन्होंने एक-दूसरे को जय माला पहनाया। तत्पश्चात रवि ने किरण की मांग में सिंदूर भरा और शादी की रस्म अदायगी पूरी की। इसके बाद दोनों ने  नोटरी के समक्ष शपथ पत्र तैयार करके विधिवत शादी के बंधन में बंधने की कानूनी प्रकि्रया भी पूरी की। अंबेडकर  प्रतिमा के समक्ष इस शादी को लेकर आज पूरे दिन चर्चा होती रही।